Dermarolar uses, benefits, and side effects in hindi

What is dermarolar and how it works – Dermarolar, रोलर की तरह दिखने वाला ही एक डिवाइस है यह 0.5 एमएम से लेकर 0.25 एवं से भी ज्यादा तक की strength and size में उपलब्ध है।
इस  डिवाइस के रोलर में छोटे-छोटे नीडल्स लगे हुए होते हैं जिनकी संख्या करीब 1000 तक हो सकती है।

इसका उपयोग करने के लिए इसे हल्के हाथों से अपनी त्वचा पर घुमाया जाता है जिससे इसमें लगे हुए छोटे-छोटे नीडल्स हमारी स्किन में कृत्रिम रूप से बहुत ही कम मात्रा में चोट पहुंचाते हैं।
परिणाम स्वरूप हमारे हीलिंग पावर उस चोट को भरने में लग जाती है जिससे वहां के आसपास की पूरी  त्वचा ठीक हो जाती है।

Dermarolar benefits –

जब हम डरमा रोलर को अपनी त्वचा पर हल्के प्रयास के साथ घूमाते हैं तब इससे त्वचा को चोट लगती है और हमारी हीलिंग पावर इसे ठीक करने में जुट जाती है जिससे हमारे चेहरे में पिंपल या किसी अन्य कारण से आए हुए गड्ढे भर जाते हैं और हमारी त्वचा साफ दिखाई देने लगती हैं।

जब हम इस प्रोडक्ट को अपने सिर पर घूम आते हैं तब इसकी चोट खाकर सिर में ब्लड सरकुलेशन बढ़ जाता है जिसके कारण हमारे बालों को पोषण मिलना शुरू हो जाता है और हमारे बाल लंबे काले घने और स्वस्थ हो जाते हैं।

Dermarolar side effects –

Iching –  डरमा रोलर के उपयोग से कभी-कभी सिर में खुजलाहट इचिंग और रेडनेस जैसी समस्या होती है जिसके कारण कभी-कभी हमें इसका उपयोग बंद भी करना पड़ता है

Infection –  यदि हमारे सिर में या  फिर पूरे शरीर की त्वचा में कहीं पर भी जान डर्मा रोलर का उपयोग किया जाना है और वहां पर इंफेक्शन होता है, तो इसके प्रयोग से बैक्टीरिया अंदर तक घुस जाते हैं जिसके कारण हमें पहले से भी ज्यादा समस्याएं हो सकती हैं।

Bleeding –  कभी-कभी बहुत बड़े डरमा रोलर के ज्यादा ताकत के साथ उपयोग करने पर यह हमें काफी चोट पहुंचा देती है जिसके कारण ब्लीडिंग भी होने लगती है।

Hair fall –  डरमा रोलर के छोटे-छोटे बहुसंख्यक नीडल्स के कारण कभी-कभी सिर में इसका उपयोग करने से हमारे बाल उलझ जाते हैं और बाल उलझने के कारण दर्द के साथ टूट भी जाते हैं।

जरूरी सावधानियां-

डर्मा रोलर का उपयोग करने के बाद हमेशा इसे करीब 15 मिनट तक गर्म पानी में डुबोकर रखें इससे इंफेक्शन नहीं होगा।

कभी भी एक ही डरमा रोलर को सिर और बाकी त्वचा के लिए इस्तेमाल ना करें, और यदि करना चाहते ही है तो एक जगह इस्तेमाल करने के बाद दूसरे का इस्तेमाल करने के बीच में पहले उसे गर्म पानी में डुबोकर रखें इससे हमारे सिर और त्वचा की बैक्टीरिया आपस में ट्रांसफर नहीं होंगे।

कभी भी डरमा रोलर को उपयोग करने के बाद खुले में ना रखें क्योंकि इस पर मक्खी मच्छर इत्यादि जीव बैठते रहते हैं जिससे यह संक्रमित हो जाता है और इसका उपयोग करते समय यह हमारी त्वचा के अंदर तक जाता है जो बड़ी परेशानी का सबब बन सकती हैं इसलिए इसे हमेशा इसके बॉक्स के अंदर ही रखें

2 thoughts on “Dermarolar uses, benefits, and side effects in hindi”

Leave a Comment