पेट फूलने का कारण । pet phulne ka karan in hindi

Pet phulne ka karan – वेलकम फ्रेंड्स हम में से कई ऐसे लोग होते हैं जिन्हें खाना खाते ही पेट फूलने की समस्या होती है और पेट में मरोड़े आने लगते हैं तो इसीलिए आज हम जानेंगे पेट क्यों फूलता है इसका क्या कारण है और इसे ठीक कैसे किया जा सकता है.

पेट फूलने के निम्न कारण हो सकते हैं-

😃 बीमारियां
😃 गैसीक food
😃 Bubbly drinks
😀 कार्बोहाइड्रेट
😃 वसा-
😃खाने की रफ्तार
😃खाने की मात्रा
😃 नमक
😃Medicine-

पेट क्यों फूलता है

पेट फूलना मुख्य रूप से आपके खाने पर निर्भर करता है आप कितनी मात्रा में खाना खाते हैं और और क्या खाते हैं इसके साथ ही आपके खाने की रफ्तार क्या होती है एवं यदि आपके खाने में शुगर नमक या ऑयल बहुत ज्यादा मात्रा में होता है तो यह भी पेट फूलने का बड़ा कारण हो सकता है

😃बीमारियां
😀 अगर आपको खाने की थैली में कोई इंफेक्शन है को या आपको गैस्ट्रिक अल्सर जैसे कोई परेशानी है यदि आपको इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम है या फिर क्राउंस डिजीज है यदि आपके इंटरेस्ट में बैक्टीरियल ग्रोथ ज्यादा  है  तो यह सभी बीमारियां भी आपको पेट फूलने का एहसास कराएंगे.

😃गैसीक food
साइंस के अनुसार कुछ ऐसे फूड्स हैं जो गैस बनाने का ही काम करते हैं इसके अंतर्गत आते हैं बींस  जैसे लोबिया, राजमा,  ब्रोकली, गोभी आदि.
इन सभी खाद्य पदार्थों में रेफिनोज होता है जिसको हमारे शरीर के बैक्टीरिया पचा नहीं पाते हैं जिसके कारण गैस बनना शुरू हो जाता है और पेट फूल जाता है.

😃 Bubbly drinks
बबली ड्रिंक्स के अंतर्गत आता है कोल्ड ड्रिंक्स सोडा जैसी चीजें आपको यह खुद एहसास होता है जब भी हम कुछ ऐसी चीजें पीते हैं तो कुछ गैस तो हम अपने मुंह से निकालते हैं और कुछ  नाक से लेकिन इनके अलावा भी कुछ गैस बच जाती है जो हमारे इंटेस्टाइन में हो सकती हैं जिसके कारण हमें पेट में हमेशा तनाव महसूस होगा.
इंटेस्टाइन  मैं यदि एक बार गैस चली जाए तो वह वापस डकार या मुंह के द्वारा नहीं आ सकती वह नीचे से ही निकलेगी.

😀 कार्बोहाइड्रेट

हमारे खाने में 3 तरह की चीजें होती हैं कार्बोहाइड्रेट वसा और प्रोटीन गैस बनने की सबसे ज्यादा समस्या सिंपल कार्बोहाइड्रेट के कारण होती है.
सिंपल काइबो कार्बोहाइड्रेट सबसे ज्यादा व्हाइट ब्रेड शक्कर या फिर मैदे की चीजों में होता है. 

इन सब चीजों को खाने से हमारे शरीर में शुगर लेवल बढ़ता है जब भी हमारे शरीर में शुगर लेवल बढ़ता है तो हमारे लीवर से ग्लाइकोजन के रूप में संरक्षित करके रखता है और जब यह ग्लाइकोजन की मात्रा अधिक बढ़ जाती है तो हमारी बॉडी वाटर रिटर्न करने लगती है जिसके कारण गैस बनना स्टार्ट हो जाता है.

तो इससे बचने के लिए आपको सैंपल कार्बोहाइड्रेट का सेवन नहीं करना चाहिए बल्कि कॉन्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट का सेवन करना चाहिए कॉन्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट जोकर जोकर आटे और सब्जियों आदि में पाए जाते हैं जो स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत लाभदायक होते हैं.

😃वसा-
जब भी हम कोई खाना खाते हैं तो वह 3 से 4 घंटे में बचकर इंटेस्टाइन में चला जाता है लेकिन वैसा एक ऐसी चीज है  जो पचने में सबसे ज्यादा टाइम लेता है कई बार आपने देखा होगा कि यदि आप लेट रात्रि में खाना खाते हैं और उसमें तरीक वसायुक्त खाना खाते हैं तो सुबह उठने पर डकार यदि आपको आती है तो उसने उसी रात के खाने की डकार होगी.

वसायुक्त खाद्य पदार्थों में कैलोरी बहुत मात्रा में होती हैं जिसके कारण वजन भी तेजी से बढ़ता है और वजन बढ़ने के कारण वाटर रिटेंशन होता है जिससे शरीर में गैस बनना शुरू होता है.

😃खाने की रफ्तार

जब भी हम खाना खाते हैं तो हमारे मस्तिष्क को  यह जानने में में करीब 20 से 30 मिनट का समय लग जाता है कि हमने कितना खाना खाया है. जब हम  अधिक रफ्तार से खाना खाते हैं तो हमारे द्वारा अधिक मात्रा में भोजन एवं हवा भी खा लिया जाता है.

जिसके कारण यह गैस सीधे इंटेस्टाइन में पहुंचती है और पेट फूलना शुरू हो जाता है भोजन करने के कुछ देर पश्चात लोगों का एहसास होता है कि उन्होंने बहुत खाना खा लिया इसीलिए सभी डॉक्टर्स धीरे-धीरे खाने की और चबा चबा कर खाने की सलाह देते हैं.

😃खाने की मात्रा
हमारे शरीर में स्थित खाने की थैली का आकर हमारी बंद मुट्ठी के जितना होता है किंतु जब हम बहुत अधिक मात्रा में खाना खाते हैं तो इस थैली में खिंचाव उत्पन्न हो जाता है जिसके कारण डकार तनाव पेट फूल जैसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती है.

😃 नमक
आमतौर पर लोग नमक को सिर्फ हार्ड के लिए नुकसानदायक मानते हैं लेकिन नमक घाट किडनी लीवर पर एक आदमी बहुत सी चीजों के लिए नुकसानदायक होता है नमक खाने से हमारे शरीर में पानी का स्टोर ज्यादा होता है जिसके कारण वाटर रिटेंशन भी होता है और वॉटर रिटेंशन से गैस तो बनती ही है.

😃Medicine
जब भी हम कोई दर्द की दवाई या स्टेरॉइड आदि का सेवन करते हैं तो हमारे मेटाबॉलिज्म का संतुलन बिगड़ जाता है जिसके कारण पेट में तनाव मरोड़ आदि महसूस होते हैं.

तो फ्रेंड्स आपको पेट फूलने की समस्या है तो आपको बस आप सिंपल कार्बोहाइड्रेट, अधिक रफ्तार से खाना, अधिक मात्रा में खाना, बबली ड्रिंक्स आदि पर लगाम लगाने की जरूरत है इन सब को ठीक करने के बाद भी यदि आपको गैस की समस्या है तो आपको डॉक्टर से जरूर मिलना चाहिए क्योंकि कई बीमारियों के कारण भी ऐसा हो सकता है😃.

Leave a Comment